STATE TODAY|कोरोना काल में स्काउट व मुक्तिधाम टीम के द्वारा लोगों को कर रहे हैं जागरूक

जितेंद्र पाठक

मुंगेली-लोरमी/मानव सेवा प्रभु सेवा की तर्ज पर लॉकडाउन के दौरान मुक्तिधाम स्वच्छता टीम एवं स्काउट परिवार लोरमी के द्वारा प्रशासन को सेवा दी जा रही है। इनके सदस्य जरूरतमंद को भोजन मुहैया कराने, पुलिस प्रशासन के साथ चौक चौराहे पर ड्यूटी देने, कोरोना पॉजिटिव मृतकाया के अंतिम संस्कार में योगदान देने सहित विभिन्न कार्यों के माध्यम से मानवता का परिचय दे रहे हैं।
आज पूरे देश में कोरोना संक्रमण के चलते कई राज्यों में लाॅकडाउन किया जा रहा है, इस लाॅकडाउन से जरूरी चीजों को छोड़कर सभी पर पाबंदियां लागू है। शासन प्रशासन के द्वारा लोगों से लगातार अपील की जा रही है कि वे घर पर रहें, सुरक्षित रहे, मास्क का उपयोग करें। कोरोना संक्रमण की स्थिति मुंगेली जिले में भी ठीक नहीं। देखा जाये तो संक्रमितों की संख्या बढ़ते क्रम में है। वहीं काफी मरीज कोरोना से जंग जीतकर अपने परिजनों के पास पहुंच रहे हैं। 14 अप्रैल 2021 से मुॅगेली जिला में लाॅकडाउन का निर्देश कलेक्टर के द्वारा जारी किया गया, लाॅकडाउन को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए पुलिस विभाग के द्वारा नगर के स्काउट परिवार व समाज सेवी संस्था मुक्तिधाम टीम का सहयोग लिया जा रहा है, लोगों को जागरूक करने की जिम्मेदारी मिलते ही स्काउट परिवार व मुक्तिधाम के सदस्य सुबह 10 बजे से अपनी सेवायें देने के लिए अपने कर्तव्य स्थल पहुॅच जाते हैं, जहां लोगों को बिना कारण बाहर न निकलने की समझाइश दी जाती है। वहीं लोगों को मास्क का उपयोग करने, सोशल डिस्टेंस का पालन करने की बात बताई जाती है। अकारण घूमने वालों को टीम के द्वारा वापस उनके घर जाने के लिए कहा जाता है। कहते है जब सेवा की बात आये तो पीछे नहीं हटना चाहिये, मानव सेवा से बढ़कर कोई सेवा नहीं होता, इसे चरितार्थ कर ये बखूबी पालन कर रहे हैं।

स्काउट को क्यों दी गयी जिम्मेदारी –

वहीं हम आपको बता दें कि पुलिस विभाग के द्वारा स्काउट परिवार को जागरूक अभियान में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी इसलिए दी गयी क्योंकि स्काउट परिवार विश्सनीय होता है, वफादार होता है, सबका मित्र एवं व सहयोगी होता है। स्काउट विनम्र होता है, पक्षियों का मित्र और प्रकृति प्रेमी होता है। अनुशासनशील होता है और सार्वजनिक संपत्ति की रक्षा करने में सहायता करता है। यह साहसी होता है, मितव्ययी होता है, मन, वचन और कर्म से शुद्ध होता है , वहीं हमारे लोरमी में स्काउट परिवार के सदस्यों के द्वारा बिना परवाह किये , अपनी सेवायें प्रतिदिन दी जा रही है। अपने कर्तव्य स्थल पर पहुॅच कर लोगों को जागरूक करने का कार्य कर रहे हैं। वहीं हम आपको बता दें स्काउट कि आर्मी व पुलिस विभाग से जुड़ने का प्रथम पड़ाव के रूप में भी माना जाता है।

मुक्तिधाम टीम को दी गयी जिम्मेदारी

मुक्तिधाम स्वच्छता टीम लोरमी के सेवा कार्यो के बारे में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के द्वारा भी तारीफ़ की जा चुकी है, इससे पूर्व भी पिछले साल लाॅकडाउन में मुक्तिधाम टीम ने जो सेवा कार्य किये, वे काफी अनुकरणीय रहा। पुलिस के द्वारा टीम को जागरूकता अभियान की जिम्मेदारी दी गयी, उसे वे जिम्मेदारी से निभा रहे हैं। इतना ही नहीं सदस्यों के द्वारा हाॅस्पिटल में मरीज के परिजन जो भुखे रहते हैं, उसे आवश्यकतानुसार भोजन भी प्रदान किया जाता है । मुक्तिधाम टीम की सेवा और जज्बे को सभी सलाम करते हैं।