STATE TODAY|महंगाई के मुद्दाओं से आम जनता का ध्यान भटकाने साम्प्रदायिक एजेंडे को सामने ला रही है मोदी सरकार:रत्नावली कौशल

मुंगेली:-अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण छग शासन की सदस्य,छग महिला कांग्रेस की प्रदेश महासचिव और छग अनुसूचित जाति महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश उपाध्यक्ष रत्नावली कौशल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर केंद्र सरकार की असफलता पर आक्रोश जाहिर किया है,उन्होंने कहा है की दिन प्रति दिन बढ़ती महंगाई से आम लोगों के जीवन में बहुत कठिनाई हो रही है,कौशल ने इसको लेकर चिंता जताते हुए कहा है कि पेट्रोल,डीजल,रसोई गैस सहित खाद्य सामग्रियों की कीमतें आसमान छू रहे हैं लेकिन मोदी सरकार अपने साम्प्रदायिक एजेंडे को ही आगे बढ़ाने में लगी हुई है. दशकों तक मंदिर-मस्जिद के झगड़े में पड़ी भारत की जनता विकास की लालसा रखती है, जनजीवन को सुगम बनाने के प्रयासों पर विश्वास करती है, लेकिन पुनः साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण की आस में देश को नए दंगों की ओर धकेलने का का प्रयास मोदी सरकार कर रही है.
पेट्रोल-डीजल के भाव पर केंद्र सरकार का नियंत्रण लगभग खत्म हो चुका है, ईंधन के बढ़ते भावों ने नए तरह के अपराधों को जन्म दिया है, आसपास के क्षेत्रों में देखने को मिल रहा है कि पेट्रोल-डीजल चोरी की घटनाएं बढ़ रही है, साथ ही पेट्रोल की लालसा में आपराधिक तत्व मोटरसाइकिल ही चोरी कर रहे हैं, आमजन को जीवनयापन में कठिनाई आने की वजह से आश्यकताओं की पूर्ति हेतु अपराध की संख्या में निरंतर बढ़ोत्तरी हो रही है.
रत्नावली कौशल ने डॉलर के मुकाबले रुपए के ऐतिहासिक पतन को उल्लेखित करते हुए मोदी सरकार की विदेश नीति को असफल बताते हुए उसे पर्यटन तक सीमित होना बताया. उन्होंने कहा कि देश को सही, पारदर्शी व समतामूलक शासन देने की क्षमता सिर्फ कांग्रेस पार्टी में है और आगामी आम चुनावों में समाज को बांटने वाली ताकतों को जनता जड़ से उखाड़ फेंकेगी।
सुश्री कौशल ने कहा की आज छग प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार जन हितैषी है,आम लोगो के आर्थिक और सामाजिक विकास को ध्यान में रखते हुए लगातार विकास के नए नए गाथा गढ़ते हुए ,छत्तीसगढ़ को समृद्ध और नवा छत्तीसगढ़ बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है।
छग के यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित समस्त मंत्रिमंडल के सम्मानीय मंत्रीगण सहित कांग्रेस पार्टी के समस्त प्रकोष्ठ के नेता गण जनता के सुविधा के लिए नए नए कार्यो को संपादित करने का काम कर जनता को आत्मनिर्भर बनाने का कार्य कर रहे है।