STATE TODAY|नगर पालिका अध्यक्ष कर रहे हैं अपने पद का दुरुपयोग,कोरोना काल में आमलोगों की समस्याओं को कर रहे है नजरअंदाज,जानिए क्या है पूरा मामला

मुंगेली/जिले में इन दिनों कोरोना ने हाहाकार मचा रखा है जिले में रोज सैकड़ो की तादात में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं जिसको देखते हुए जिले में 14 अप्रैल से 26 अप्रैल तक जिला प्रशासन के द्वारा लॉकडाउन लागू किया गया है,वही बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जहां आम लोगों के बेहतर इलाज के लिए क्षेत्रीय विधायक पुन्नूलाल मोहले एवँ सांसद अरुण साव के द्वारा अपने मद से लाखों रुपये देकर इस विकट परिस्थिति से निपटने आगे आये हैं वही जिले के कई सामाजिक संगठन एवँ आम नागरिकों के द्वारा भी मदद करने हाँथ बढ़ा रहे है,ऐसे में नगर के प्रथम नागरिक कहलाने वाले नगर पालिका के अध्यक्ष संतुलाल सोनकर के द्वारा नगर की आम जनता के समस्याओं को लगातार नजरअंदाज किया जा रहा है उनके द्वारा कोरोना काल के दौरान भी किसी प्रकार का कोई कार्य नही किया गया है जिससे आमलोगों को मदद मिल सके वरन वें खुद अपने पद का दुरुपयोग करते नजर आ रहे है,ऐसा ही एक तस्वीर आमलोगों के सामने निकलकर सामने आया है जिसमे नगर पालिका के अध्यक्ष संतुलाल सोनकर द्वारा अपने निजी पेट्रोल पंप में सेनेटराईज कराया जा रहा है जिसका आमलोग निंदा कर रहे है आमलोगों का कहना है कि पूरे नगर सहित जिले में कोरोना महामारी फैला हुआ है और जिन वार्डो में भारी तादात में संक्रमित निकलकर सामने आ रहे हैं उन वार्डो में संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सेनेटराईज करने की अपील किया जा रहा है लेकिन नगर पालिका के अधिकारी वार्डवासियों के मांग को अनसुना करते हुए बहानेबाजी कर रहे है, लेकिन नगर पालिका के अध्यक्ष के द्वारा नगर के सीमा से बाहर करीब 5 किमी दूर स्थापित उनके निजी पेट्रोल पंप पर नगर पालिका के वाहन से सेनेटराईज किया जा रहा है,आमलोगों का कहना है कि अध्यक्ष के निजी कार्य के लिए नगर पालिका के वाहन का उपयोग किसके आदेश से हो रहा है,वही इस मामले को लेकर कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों ने भी मोर्चा खोल दिया है,कांग्रेस कमेटी के जिला सचिव मकबूल खान ने नगर पालिका अध्यक्ष के द्वारा किये जा रहे इस कार्य को लेकर कड़ी निंदा करते हुए कहाकि नगर प्रथम नागरिक होने के नाते उनको पहली प्राथमिकता नगर की समस्याओं को दूर करना है जिनके लिए उन्हें चुना गया है अगर उबके द्वारा ही नियमों की अनदेखी किया जाएगा तो आम नागरिकों के समस्याओं को कौन दूर करेगा,वही जिला महामंत्री संजय यादव ने कहाकि जिस तरह से नगर पालिका अध्यक्ष के द्वारा अपने पद की गरिमा का अपमान करते हुए अपने निजी संस्थान पर कार्य कराए जा रहे हैं ये निंदनीय है,ऐसे में तो यही बात चरितार्थ हो रही है कि सैंया भये कोतवाल तो डर काहे का,वही युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राजेश छेदयिया ने कहाकि नगर पालिका अध्यक्ष के द्वारा कोरोना काल के दौरान आम नागरिकों के लिए कोई कार्य तो किये नही हैं लेकिन अपने अधिकारों का दुरुपयोग जरूर करते आये हैं जिस तरह से वें नगरवासियों की चिंता छोड़ अपने खुद के निजी संस्थान में नगर पालिका के वाहन का दुरुपयोग कर रहे हैं ये उचित नही है इसकी जितनी भी निंदा की जाए वो कम है,वही नगर पालिका के CMO मनीष वारे से इस मामले में जानकारी लिया गया तो उनका कहना है कि मुझे इस बारे में कोई जानकारी नही है मै पता लगाकर बता पाऊंगा साथ ही उन्होंने ये जरूर कहाकि नगर पालिका के सीमा के बाहर भी प्रशासन के द्वारा कंटेमेन जोन बनाया जाता है वहां वाहन भेजा जाता है लेकिन उनसे जब पूछा गया कि क्या नगर पालिका अध्यक्ष के पेट्रोल पंप को कंटेनमेन जोन बनाया गया है तो वें पता लगाकर बताता हूं कहते हुए मामले से बचते नजर आए,नगर पालिका क्षेत्र में जिस तरह से कोरोना का संक्रमण लगातार फैलते जा रहा है इसके लिए नगर पालिका के जनप्रतिनिधियों के द्वारा आमलोगों की सुरक्षा के दृष्टि से आवश्यक कदम उठाने की जरूरत है ताकि इस महामारी के दौर में आमलोगों को राहत मिल सके लेकिन जिस तरह से नगर के प्रथम नागरिक ही आमलोगों की समस्याओं को दरकिनार करते हुए अपने पद का दुरुपयोग करने में मशगूल है तो ऐसे में नगर की आमजनता अपनी समस्याओं को लेकर किसके पास जाएंगे