STATE TODAY|प्रशासन के दिशा निर्देशों का लोग कर रहे उल्लंघन,लोग खुद कर रहे है लापरवाही अपने ही जीवन से,प्रशासन ने कही कड़ी कार्यवाही की बात

जितेन्द्र पाठक

मुंगेली/लोरमी – जिला प्रशासन के द्वारा लाकडाउन के दौरान फल,सब्जी एवं किराना व्यवसायियों को घर पहुंच सेवा हेतु निर्धारित समय पर छूट दी गई है, लेकिन इस छूट का फायदा उठाकर एक ही जगह खड़े होकर समय की बिक्री किया जा रहा है। ऐसे में कोरोनावायरस को फैलने से कैसे रोका जा सकता है।
लोरमी नगर क्षेत्र की में भीड़ देखने को मिल रही है, लोग बहाने लेकर खरीदारी के नाम से बाहर आ रहे हैं। वहीं कुछ दुकानदारों के द्वारा शटर बंद करके सामान बेचा जा रहा है। शासन के गाइडलाइन में यह स्पष्ट है कि फल किराना सब्जी विक्रेताओं को घर पहुंच सेवा देकर विक्रय करना है, इसके बावजूद कुछ विक्रेता नियमों का उल्लंघन करते हुए भीड़ इकट्ठा कर करोना को न्योता दे रहे हैं। लोरमी नगर पंचायत प्रशासन के द्वारा इनके ऊपर कार्रवाई नहीं की जा रही है। सुबह 7:00 से 1:00 बजे तक नगर के मुख्य मार्ग में भीड़ देखी जा सकती है। सब्जी मंडी में भी स्थाई रूप से सब्जी लगाकर विक्रेताओं के द्वारा बिक्री की जा रही है। एक और प्रशासन के द्वारा वैक्सीनेशन व मास्क लगाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है वहीं दूसरी ओर लोगों के द्वारा लापरवाही की जा रही है। ऐसे में सवाल ये उठता है कि कोरोना को लॉकडाउन के दौरान भी कैसे रोका जाए। समाजसेवी संस्थाओं के द्वारा लोगों को जागरूक करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है, उसके बावजूद दुकान के आसपास लोगों की भीड़ देखने को मिलती है। यही नहीं सुनने में यह भी आता है कि पाज़िटिव मरीज स्वयं घूमकर सामान खरीदने आ रहे हैं।

मछली पकड़ने उमड़ पड़े लोग

समीपस्थ ग्राम सरईपतेरा की एक तस्वीर सामने आई है जिसमें लोग मछली पकड़ने के लिए 1 साल उमड पड़े। ऐसे में कोरोना को कैसे हराया जा सकता है। लोगों को अपनी जान की रक्षा के लिए स्वयं जागरूक होना जरूरी है। ऐसी तस्वीर दोबारा देखने को ना मिले तो सुखद रहेगा।
—————————

कड़ी कार्रवाई की जाएगी

इस संबंध में जब लोरमी एसडीएम सीसी ठाकुर से बात हुई तो उन्होंने कहा कि
कार्यवाही के लिए नगर पंचायत को कहता हूं, नियमो का उल्लंघन करने वालो के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
—————————-

मुक्तिधाम स्वच्छता टीम के संयोजक सदस्य सोहन डड़सेना एवं समाजसेवी शरद कुमार डड़सेना ने कहा कि लोगों को प्रशासन के गाइडलाइन का पालन करना चाहिए। बिना काम घर से बाहर बिल्कुल नहीं निकलना चाहिए। साथ ही साथ दुकान संचालकों को एक जगह खड़े होकर सामान का विक्रय ना करते हुए, प्रशासन का सहयोग करना चाहिए।