अपनी 09 सूत्रीय मांगों को लेकर पटवारी संघ का अनिश्चित कालीन हड़ताल नौंवे दिन भी जारी,पटवारियों के हड़ताल पर जाने से प्रशासनिक कार्य हुए ठप्प,प्रदेश सरकार के तरफ से अभीतक नही आया कोई जवाब

छत्तीसगढ़

मुंगेली/छत्तीसगढ़ पटवारी संघ के आह्वान पर जिला राजस्व पटवारी संघ के द्वारा जिले के सभी पटवारी पिछले 09 दिनों से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गए है इनके द्वारा वेतन विसंगति,वरिष्ठता के आधार पर पदोन्नति,बिना विभागीय जांच के FIR ना कराए जाने सहित अपनी 09 सूत्रीय मांगों को लेकर बीते 01 दिसम्बर को अवकाश लेकर जिला मुख्यालय में प्रदर्शन किया गया था साथ ही 02 दिसम्बर से 13 दिसम्बर तक विरोध स्वरूप काली पट्टी लगाकर कार्य किया गया और जिले के कलेक्टर को प्रदेश सरकार के नाम अपनी 09 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा गया था बावजूद इसके शासन के द्वारा इनकी मांगो को अनसुना कर दिया गया जिसके विरोध में जिले के सभी 157 पटवारी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर डटे हुए है अपनी मांगों के बारे में अवगत कराते हुए संघ के जिलाध्यक्ष टी आरिफ व संगठन मंत्री आशीष सिंह क्षत्रिय ने बताया कि हमारे द्वारा लगातार 02 वर्षो से अपनी मांगों को लेकर शासन प्रशासन से चर्चा किया जा रहा है लेकिन आज 02 वर्ष बीत जाने बाद भी हमारी मांगो को गंभीरता से नही लिया जा रहा है जबकि हमारे द्वारा जिले के दुरस्त अंचल के गांवों में अपनी सेवाएं लगातार देते आये है साथ शासन के द्वारा दिये गए प्रत्येक कार्य को पूरी निष्ठा से करते आये है हमारी जो 09 सूत्रीय मांगे है वो पूरी तरह से सही है तथा हमारा जायज हक भी है इस लिए इस बार हमारे संघ के पदाधिकारियों एवँ संघ के सदस्यों के द्वारा छत्तीसगढ़ पटवारी संघ के बेनर तले पूरे प्रदेश में अनिश्चित कालीन हड़ताल करते हुए मांगे पूरे नही होने तक मैदान में डटे रहेंगे वही जिले के सभी पटवारियों के हड़ताल पर चले जाने से प्रशासनिक कार्य सहित ग्रामीणों के जमीन संबंधित कार्य पूरी तरह से ठप्प पड़े हुए है