STATE TODAY|BEMETARA:प्रधानमंत्री केयर फंड से प्रदेश में 14 जिलों में आक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृति दी गई है,बेमेतरा जिले का नाम नही किया गया शामिल

एक ओर जहां इन दिनों कोरोना वायरस महामारी के बने हालात के चलते मरीजों की मरीजों को आक्सीजन की आपूर्ति एक तरह से चुनौती से कम नहीं कही जा सकती है जिसे देखते हुए प्रधानमंत्री केयर फंड से प्रदेश में 14 जिलों में आक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृति दी गई है।
===========
संजू जैन
बेमेतरा:एक ओर जहां इन दिनों कोरोना वायरस महामारी के बने हालात के चलते मरीजों की मरीजों को आक्सीजन की आपूर्ति एक तरह से चुनौती से कम नहीं कही जा सकती है जिसे देखते हुए प्रधानमंत्री केयर फंड से प्रदेश में 14 जिलों में आक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृति दी गई है।

जिसमें बेमेतरा जिले का नाम शामिल नहीं है तथा दी गई सूची में इस बात का उल्लेख किया गया है कि बेमेतरा जिला चिकित्सालय में पहले से ही आक्सीजन प्लांट बना हुआ है, जिसके चलते उक्त स्वीकृति बेमेतरा जिले में नहीं दी गई है,

जबकि विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आक्सीजन प्लांट का निर्माण तो हुआ है किंतु तकनीकी दिक्कतों के चलते अब तक इसे शुरू नहीं किया जा सका है, जिसकेचलते ही प्रतिदिन बाहर से लगभग 100 से 125 आक्सीजन सिलिंडर मंगाया जा रहे हैं।

अब सवाल यह उठता है कि जब वास्तव में मरीजों को आक्सीजन की जरूरत है तब यह प्लांट जो कि बनकर तैयार है उसमें आक्सीजन की आपूर्ति आखिर क्यों नहीं की जा रही है। निश्चित रूप से एक बड़ी विभागीय लापरवाही की जा सकती है, जिसके चलते जिला चिकित्सालय में बनाए गए कोविड-19 में आक्सीजन की आपूर्ति के लिए दूसरे जगह पर निर्भर होना पड़ रहा है।

इस संबंध में जब मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सतीश शर्मा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि एमसीएच बिल्डिंग में आक्सीजन प्लांट तैयार है,जिसकी क्षमता प्रतिदिन 60 सिलेंडर की तो है पर तकनीकी दिक्कतों केचलते इसे अब तक चालू नहीं किया जा सका है।