ऑनलाइन आवेदनों के निराकरण मामले में बिलासपुर राज्य में प्रथम, 96 प्रतिशत से अधिक मामलों का निराकरण समय सीमा में

ऑनलाइन आवेदनों के निराकरण मामले में बिलासपुर राज्य में प्रथम.. 96 प्रतिशत से अधिक मामलों का निराकरण समय सीमा में..

बिलासपुर/ऑनलाईन आवेदनों के समय सीमा के भीतर निराकरण के मामलों में बिलासपुर जिला राज्य में प्रथम है.. गत वर्ष एवं इस वर्ष अब तक 1 लाख 26 हजार से अधिक आवेदन लोक सेवा केन्द्रों, च्वाईस सेंटर के माध्यम से आनलाईन प्राप्त हुए, जिनमें से 1 लाख 21 हजार से अधिक अर्थात 96 प्रतिशत से अधिक आवेदनों का निराकरण निर्धारित समय-सीमा में किया गया है.. जिले में ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजना के माध्यम से आय, जाति, निवास, विवाह, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र सहित 80 से अधिक विभिन्न प्रकार की सेवाओं का संचालन लोक सेवा/च्वाईस केन्द्रों के माध्यम से आॅनलाईन किया जा रहा है.. चिप्स के ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल के उपयोग से विभिन्न सेवाओं के लिये अब लोगों को शासकीय कार्यालय तक आने की आवश्यकता नहीं है.. घर से ही मोबाईल अथवा कम्प्यूटर इंटरनेट के माध्यम से अथवा नजदीक के सामान्य सेवा केन्द्र, इंटरनेट कैफे के माध्यम से आनलाईन आवेदन कर सकते हैं..आवेदन के साथ आवश्यक दस्तावेजों को स्केन कर संबंधित कार्यालय को भेजा जाता है.. आवेदन जमा होने की जानकारी तथा निराकरण अथवा कार्यवाही की जानकारी भी आवेदक के पंजीकृत मोबाईल नंबर पर मिल जाती है। आवेदन के निराकरण होने पर डिजिटल सर्टिफिकेट भी इंटरनेट के माध्यम से डाउनलोड किया जा सकता है.. ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजना के माध्यम से जिले में लोगों को शासकीय कार्यालय जाये बिना आय, जाति, निवास, विवाह, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, सीमांकन, नामांतरण, बंटवारा, नगरीय निकायों में गुमास्ता, भवन निर्माण, समस्त प्रकार के पेंशन, वन विभाग, कृषि विभाग, नापतौल विभाग, उद्यानिकी विभाग, पाॅलिटेक्निक काॅलेज, आईटीआई से संबंधित सेवाएं प्राप्त हो जाती है.. विभागों से संबंधित आवेदन लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत आनलाईन निराकृत किये जाते हैं..