STATE TODAY|शासकीय निर्माण कार्य सामाग्री दर में अतिशीघ्र वृद्धि कर नया मापदण्ड (सीओआर) लागु करने व मनरेगा के तहत निर्माण कार्य की सामाग्री राशि के भुगतान को लेकर,सरपंच संघ के द्वारा कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

जितेन्द्र पाठक

मुंगेली/लोरमी – लोरमी जनपद पंचायत के सरपंच संघ के द्वारा मुॅगेली जिला कलेक्टर को ग्राम पंचायत में शासकीय निर्माण कार्य सामाग्री दर में अतिशीघ्र वृद्धि कर नया मापदण्ड (सीओआर) लागु करने व नरेगा के तहत निर्माण कार्य की सामाग्री राशि का भुगतान अतिशीघ्र करने को लेकर ज्ञापन सौपा गया। इस दौरान सरपंच संघ के अध्यक्ष रामनिवास राठौर ने बताया कि वर्तमान में ग्राम पंचायत में जो भी निर्माण कार्य कराया जा रहा है उसकी तकनीकी स्वीकृति पंचायत एवं ग्रामीण विभाग द्वारा निर्धारित मापदण्ड 1 जुन 2015 के अनुसार दिया जा रहा है जो कि आज दिनांक में 6 वर्ष का अतंराल हो चुॅका है जबकि 5 वर्ष की अवधि बाद में शासकीय निर्माण कार्यो के लिए नया सामाग्री दर मापदण्ड निर्धारित हो जाना था जो कि काफी समय हो चुॅका है दर में सुधार नहीं होने के कारण पंचायत के निर्माण कार्यो में सरपंचो को अधिक भार उठाना पड़ रहा है क्योंकि आज के समय में निर्माण कार्य सामाग्री सामानों की दर में काफी वृद्धि हो चुॅका है जिसका जल्द से जल्द नया मापदण्ड (सीओआर) लागु किया जाये। अध्यक्ष रामनिवास ने कहा कि कोरोना महामारी से हमारा पुरा छत्तीसगढ़ लड़ रहा है इस संकट की घड़ी में हमारे पूरे सरपंच साथी कदम से कदम मिलाकर कोरोना के संक्रमण के प्रति और टीकाकरण के लिए लोगो को जागरूक करने का कार्य कर रहे है सरकार के महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बारी और अन्य निर्माण कार्य जो नरेगा के तहत कार्य कराया गया है जिसकी सामाग्राी का भुगतान राशि पिछले 8 माह से आज तक नहीं मिल पाया है जिसके कारण सरपंचों को काफी परेशानीयों से गुजरना पड़ रहा है सामग्री की राशि के लिए दुकानदार के द्वारा लगातार हमें कहा जा रहा है इतना ही नहीं उनका ब्याज भी हमें वहम करना पड़ रहा है सरपंचो के सामने काफी दुविधा व परेशानी उत्पन्न हो रही है, इसलिए जब तक पूर्व नरेगा निर्माण की राशि हमें प्रदान नहीं किया जाता है तक कोई भी कार्य हमारे द्वारा नहीं कराया जायेगा। अत हम सभी सरपंच मांग करते हुए कलेक्टर के माध्यम से पंचायत मंत्री, सांसद, विधायक से मांग करते है कि हमारी मांगो पर विचार करते हुए जल्द से जल्द निराकरण किया जाये। इस दौरान सरपंच संघ के सदस्य उपस्थित रहे।