पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर,फास्टरपुर पुलिस ने किया अपहरण मामले के सात आरोपियों को जेल दाखिल

मुंगेली/ मुंगेली जिले में इन दिनों नाबालिक बालिकाओं
को बहला फुसलाकर अपहरण कर शारीरिक शोषण के मामले लगातार प्रकाश में आते रहते हैं जिसमें कसावट लाने पुलिस कप्तान अरविंद कुजूर के दिशा निर्देशन में एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल सोनी व उप
पुलिस अधीक्षक मुंगेली तेजराम पटेल के मार्गदर्शन में थाना फास्टरपुर प्रभारी संजीव ठाकुर व सहायक उप निरीक्षक राजेंद्र ठाकुर के नेतृत्व में टीम गठित कर सह आरोपियों के धर पकड़ वास्ते टीम को रवाना किया गया था जो जिले के दूसरे थाना क्षेत्र लोरमी के ग्राम फुलझर(फुलवारी) से 4
आरोपियों को एवं थाना फास्टरपुर के तीन आरोपियों को पकड़ कर गिरफ्तार करने में सफल हो सकी है। थाना फास्टरपुर के अपराध कमांक 178/2020 धारा 363,366,376 भादवि एवं 4,6 पॉक्सो एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध हुआ था जिसके मुख्य आरोपी दिलीप पात्रे पिता नरेश पात्रे निवासी फुलझर (फुलवारी) को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल दाखिल कराया गया था एवं नाबालिक पीड़िता के न्यायालय कथन के आधार पर अपराध में मदद करने वाल साथी सहआरोपियों को थानाफास्टरपुर पुलिस लगातार पता तलाश कर रही थी जो पुलिस की आंखो
में धुल झोककर फरार होने में सफल हो रहे थे अपराध में शामिल सभी सह आरोपियों को आज दिनांक 05.02.2021 सुबह 4 बजे दबिश देकर
गिरफ्तार किया गया जिन्हे न्यायिक रिमाण्ड पर जेल दाखिल कराया गया है अपराध को बढ़ावा देने वाले आरोपियों में नरेश पात्रे, मन्नू पात्रे,
सुशील पात्रे, अनुज कोशले, मीना कोशले, मनोज पात्रे एवं अमित कोशले है इस तरह के अपराध में सहयोग करने वाले लोगों के मन में अपराध में सहयोग करने थाना क्षेत्र में भय का माहोल व्याप्त हुआ है कार्यवाही में थाना प्रभारी संजीव ठाकुर,सहा.उप निरीक्षक राजेंद्र ठाकुर आरक्षक बृजेश प्रधान,सीताराम बर्मन,राधेलाल नेताम सहित थाना फास्टरपुर के अन्य थाना स्टॉफ शामिल रहे