नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाली शातिर महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार,2 सौ बेरोजगारों से करीब 20 करोड़ की ठगी

बलौदाबाजार: हर युवा सरकारी नौकरी करने का सपना संजोता है, ऐसे में ठग उनके सपनो को सच करने के एवज में जमकर पैसे एंठते हैं। ऐसा ही एक मामला जिले से सामने आ रहा है, जहां महिला एवं बाल विकास विभाग में नौकरी लगाने का सपना दिखाकर महिला ठग मेवा चोपड़ा ने कई युवाओं को करोड़ों की चपत लगा दी। पुलिस ने महिला ठग को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार मेवा महिला एवं बाल विकास में सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत थी। इसलिए लोग उनका भरोसा जल्द ही कर लेते थे। मेवा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहित अन्य पदों पर नौकरी लगाने के नाम पर अपने साथी के साथ मिलकर करोड़ों की ठगी कर दी थी। पुलिस पिछले पांच महीनों से मेवा की तलाश में थी लेकिन वह पुलिस को लगातार चकमा दे रही थी।इसी बीच पुलिस को खबर मिली की वह अपने घर बलौदाबाजार आ रही है। पुलिस ने मौके का फायदा उठाते हुए घेराबंदी की और मेवा को गिरफ्तार कर लिया। वहीं उसका साथी व सरगना अशोक पांडे उर्फ महेश तिवारी अभी भी फरार है, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।आपको बता दें कि विभाग में नौकरी लगाने के नाम पर मेवा ने 200 बेरोजगारों से करीब 20 करोड़ रूपये ठगे थे। जब पीड़ितों ने इस बारे में बलौदाबाजार सिटी कोतवाली थाने में शिकायत की, तब से वह फरार चल रही थी।