ATM मशीन से छेड़छाड़ कर रकम उड़ाने वाले गिरोह को पकड़ने में मिली पुलिस को बड़ी सफलता,कई बैंकों के ATM कार्ड सहित मोबाईल व रकम बरामद

छत्तीसगढ़

बिलासपुर/सरकंडा पुलिस ने ATM फ्रॉड के चार आरोपियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है, जो एटीएम मशीन के साथ छेड़छाड़ कर अलग-अलग राज्यों में बैंको को चूना लगा रहे थे।
दरअसल 28 दिसंबर को डीएसआई इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के अधिकारी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराया था, कि 26 दिसंबर को शिव घाट कोनी सरकंडा स्थित SBI ATM में कुछ अपराधियों द्वारा एटीएम मशीन के साथ छेड़छाड़ कर एटीएम से ₹ 29,000 धोखाधड़ी कर निकाल लिए गए।बैंक को ₹ 29,000 के नुकसान के मामले में पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी । इसी दौरान पता चला कि राजकिशोर नगर एसबीआई एटीएम के पास दिल्ली पासिंग गाड़ी में चार संदिग्ध व्यक्ति एटीएम से छेड़छाड़ कर रहे हैं । सूचना पाते ही थाना प्रभारी जेपी गुप्ता के नेतृत्व में टीम ने एटीएम के पास पहुंच कर जांच पड़ताल शुरू की तो चारों संदिग्ध व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगे,जिन्हें दौड़ कर पुलिस ने पकड़ लिया । आरोपियों की तलाशी लेने पर उनके पास से 12 अलग – अलग बैंकों के एटीएम कार्ड , पुलिस तथा मीडिया का फर्जी परिचय पत्र ,4 नग मोबाइल मिला | जांच में पता चला कि यह सभी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं तथा अलग – अलग राज्यों में जाकर,खासकर एसबीआई के एटीएम बूथ में दूसरे बैंकों के एटीएम कार्ड से पैसा निकालने में माहिर है । पता चला कि शातिरो ने एटीएम मशीन से छेड़खानी करने का अनोखा हुनर सीख लिया था । जिससे मशीन से बाहर आसानी से पैसा निकल आता था लेकिन एटीएम के विंडो स्क्रीन पर दिस इज टेम्परेरी आउट ऑफ़ सर्विस लिखा दिखता था । जिस से रकम निकालने का हिसाब बैंकों के पास नहीं पहुंच पाता था । बैंकों में कंप्यूटर एरर ही नजर आता था । जिसे बाद में आरोपी कस्टमर केयर नंबर पर कॉल कर रकम एटीएम मशीन में फस जाने और रकम नहीं मिलने की शिकायत करते थे । 7 दिन के भीतर जितना रकम निकालते थे , उतना ही रकम फिर से उनके खाते में जमा हो जाता था।पकड़े गए आरोपियों के पास से जप्त एटीएम कार्ड तथा संबंधित एटीएम से निकासी की रिपोर्ट मिलान करने पर पता चला कि 2 एटीएम कार्ड से आरोपियो द्वारा तीन बार में ₹ 29,000 निकाला गया था । इस मामले में पुलिस ने कानपुर देहात निवासी अजीत कुमार निषाद , जालौन उत्तर प्रदेश निवासी आदेश श्रीवास्तव , हमीरपुर उत्तर प्रदेश निवासी अंकित कुमार निषाद और जालौन उत्तर प्रदेश के बाबू सिंह निषाद को गिरफ्तार किया है । पुलिस ने इन लोगों के पास से ₹ 30,000 नगद भी बरामद कर लिया है।