परिवहन मंत्री और राजधानी में ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन की बैठक बेनतीजा,करोड़ों का नुकसान होने की संभावना

रायपुर/परिवहन मंत्री और राजधानी में ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन की बैठक बेनतीजा निकली। सरकार, रीयल एस्टेट,मजदूरों और सीमेंट कंपनियों को इससे करोड़ों का नुकसान होने की संभावना है। काम बंद होने से मजदूर घर लौट रहे हैं। सरकार और ट्रांसपोर्टर के बीच भाड़े को लेकर सहमति नहीं बन पायी।

राजधानी में ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने डीजल के दाम बढ़ने की वजह से 12 प्रतिशत बढ़ोत्तरी की मांग की थी। पदाधिकारियों ने सरकार से कहा था कि शासन की मध्यस्थता के कारण यदि सीमेंट कंपनियां परिवहन भाड़े में 12 प्रतिशत वृद्धि कर लेती है तो परिवहन का कार्य शुरू हो जाएगा।

इस बाबत मोहम्मद अकबर ने कहा कि ट्रांसपोटर्स और सीमेंट कंपनियों के पदाधिकारियों के बीच बैठक का मतलब यह था कि सीमेंट का परिवहन बिना किसी परेशानी को हो। हमारा उदेश्श्य दोनों पक्षों के हितों को देखना है और जनसामान्य को सीमेंट की किल्लत से बचाना है। सीमेंट कंपनियों के पदाधिकारियों से ट्रांसपोटर्स द्वारा परिवहन भाड़े में बढ़ोतरी की मांग पर जल्द समाधान खोजने को कहा है।