STATE TODAY|बेमेतरा कालेज में हंगामे के बाद बढ़ाई गई उत्तर पुस्तिका जमा करने की तिथि,एबीवीपी के मांग पर कॉलेज प्रबंधन ने लिया निर्णय

संजू जैन
बेमेतरा: पीजी कालेज में हेमचंद विश्वविद्यालय परीक्षा के लिए आज छात्र-छात्राओं को उत्तर पुस्तिका व फीस जमा करने के लिए भारी अव्यवस्थाओं का सामना करना पड़ा। काफी तादाद में छात्र-छात्राएं एकत्रित हो जाने व फीस तथा उत्तर पुस्तिका के लिए एक ही काउंटर निर्धारित कर दिए जाने के चलते छात्र-छात्राओं ने महाविद्यालय प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

हालांकि इस बीच अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नेताओं द्वारा छात्र छात्राओं को सुविधा को ध्यान में रखकर महाविद्यालय प्रशासन से इस संबंध में अवगत कराया गया तब तिथि व काउंटर भी बढ़ाया गया।

विदित हो कि पीजी महाविद्यालय बेमेतरा में लगभग छह हजार छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं। स्वाध्यायी छात्र छात्राओं की फीस व उत्तर पुस्तिका जमा किया जाना निर्धारित किया गया था। हालांकि महाविद्यालय प्रशासन द्वारा काफी तादाद में छात्र-छात्राओं की संख्या को देखते हुए तीन चरणों में बांटकर अलग-अलग तिथि की घोषणा की गई है, जिसके चलते 2000 छात्र-छात्राओं को तीन-चार व पांच जून को उत्तर पुस्तिका जमा करना नियत किया गया था, किंतु शुरुआती दो दिनों में छात्र-छात्राओं द्वारा उत्तर पुस्तिका वह फीस जमा करने में रुचि नहीं दिखाई गई। अंतिम दिवस आज सभी छात्र छात्राएं महाविद्यालय पहुंचे, जिसके चलते अव्यवस्था व भीड़ का आलम देखने को मिला। परिणाम स्वरूप छात्रों की असुविधा को ध्यान में रखकर निर्धारित तिथि को आगे बढ़ाकर 14 व 15 जून कर दिया गया है, ताकि छात्र छात्राओं को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो और अपनी उत्तर पुस्तिका भी जमा कर सकें।

इतनी भीड़ कहीं कोई नई परेशानी न खड़ी कर दे

इन दिनों कोरोना महामारी के बने हालात केचलते लगातार जिला प्रशासन द्वारा यह चेतावनी आम लोगों को दी जाती रही कि अनावश्यक भीड़ कहीं एकत्रित ना होने पाए, किंतु इसे विडंबना ही कही जा सकती है कि महाविद्यालय में आज छात्र छात्राओं की इतनी तादाद में भीड़ उमड़ पड़ी है जो सोचने के लिए अवश्य ही मजबूर कर देती है कि आखिर महाविद्यालय स्तर में इतनी भीड़ वह भी छात्र-छात्राओं की, आखिर प्रशासन के दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करना लोग आवश्यक क्यों नहीं समझ रहे हैं। बहरहाल हालत को देखकर या अवश्य ही कहा जा सकता है कि यह भीड़ आने वाले दिनों में कोई परेशानी का कारण न बन जाए।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद नेताओं ने बढाया काऊंटर

अव्यवस्था के कारण अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नेता डटे रहे और छात्राओं के लिए 2 और काउंटर खुलवाया जिससे व्यवस्था में सुधार हुआ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला संयोजक ने बताया कि यहअव्यवस्था उत्तर पुस्तिका जमा करने की तिथि के कारण हुई अगर तिथि को 1 दिन पहले बढ़ा देते तो
अव्यवस्था नहीं होती
संयोजक दुर्गेश वर्मा नगर सह मंत्री रौनक चांवला,मुस्कान कोठारी, महाविद्यालय प्रमुख दुर्गेश्वर वर्मा, जिला प्रमुख पुण्यांश श्रीवास्तव, सोशल मीडिया प्रमुख विवेक वर्मा, दुर्गेश्वर वर्मा, धात्री साहु ,मीना यादव, अजय एवं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद बेमेतरा ईकाई के कार्यकर्ता मौजूद रहे

बताया गया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने पूर्व में ही ज्ञापन देकर उत्तर पुस्तिका जमा करने की तिथि बढ़ाने की मांग की थी

इस हालात के संबंध में प्राचार्य के महाविद्यालय डा.डीडे से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि 2000 छात्र छात्राओं के लिए 3- 4 व 5 जून की तिथि निर्धारित की गई थी किंतु शुरुआती दो दिनों में कोई भी छात्र छात्राएं फार्म व फीस जमा करने के लिए महाविद्यालय नहीं पहुंचे। अंतिम तिथि में इकट्ठे होकर छात्र-छात्राएं पहुंचे, जिसकेचलते इस तरह केहालात बने और छात्र छात्राओं की सुविधा को ध्यान में रखकर न केवल काउंटर ही बढ़ाया गया बल्कि तिथि भी आगे की गई। हालांकि आज लगभग 1800 छात्र-छात्राओं ने अपना उत्तर पुस्तिका जमा भी किया है।