बस्तर संभाग में गठित की गई राज्य की प्रथम महिला पुलिस बैण्ड,बस्तर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया था पुरुस्कृत,नक्सल विरोधी अभियान जैसी संवेदनशील ड्यूटी के साथ-साथ पुलिस बैण्ड एवं सलामी गार्ड में भी बस्तर की महिला पुलिस बल द्वारा दी जा रही सराहनीय भागीदारी।

● बस्तर संभाग में गठित की गई राज्य की प्रथम महिला पुलिस बैण्ड।

● नक्सल विरोधी अभियान जैसी संवेदनशील ड्यूटी के साथ-साथ पुलिस बैण्ड एवं सलामी गार्ड में भी बस्तर की महिला पुलिस बल द्वारा दी जा रही सराहनीय भागीदारी।

● पुलिस महानिरीक्षक,बस्तर रेंज,जगदलपुर सुंदरराज पी. द्वारा बस्तर में तैनात पुलिस एवं सुरक्षा बल में भी महिला अधिकारी/कर्मचारियों को कार्य करने हेतु बेहतर अवसर प्रदाय की जावेगी।

जगदलपुर/बस्तर संभाग अंतर्गत पुलिस एवं सुरक्षा बलों में महिला अधिकारी एवं कर्मचारियों को कार्य क्षेत्र में पुरूषों के बराबर अवसर दी जा रही है। आमतौर पर महिला पुलिस बल को कानून व्यवस्था एवं महिला सुरक्षा तथा अपराधों की विवेचना में अवसर दी जाती है।

नक्सल विरोधी अभियान, पुलिस बैण्ड, सलामी गार्ड इत्यादि कार्यो में परम्परागत तरीके से सिर्फ पुरूष अधिकारियों एवं कर्मचारियों को ही अवसर दी जाती है, लेकिन विगत दिनों में बस्तर संभाग अंतर्गत नक्सल विरोधी अभियानों में महिला कमाण्डोज द्वारा सराहनीय योगदान दी जा रही है। इसके अतिरिक्त पुलिस बैण्ड, सलामी गार्ड एवं अन्य सेरेमोनियल कार्यो में भी महिला पुलिस बल को बराबर अवसर दी जा रही है।

उल्लेखनीय है कि विगत दिनों में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बस्तर प्रवास के दौरान जगदलपुर में महिला पुलिस बैण्ड द्वारा विशेष प्रस्तुति दी गई, इसी प्रकार जिला दंतेवाड़ा में भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आगमन पर पहली बार महिला गार्ड द्वारा सलामी दी गई। मुख्यमंत्री द्वारा पुलिस बैण्ड एवं सलामी गार्ड में शामिल महिला अधिकारी एवं कर्मचारियों के कार्य को सराहना करते हुये पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज, जगदलपुर सुंदरराज पी. द्वारा बताया गया कि हर एक प्रगतिशील समाज एवं संगठन में महिलाओं को उचित सम्मान व अवसर दी जाती है, इसी प्रकार बस्तर में तैनात पुलिस एवं सुरक्षा बल में भी महिला अधिकारी/कर्मचारियों को कार्य करने हेतु बेहतर अवसर प्रदाय की जावेगी।