पुलिस की बड़ी कार्यवाही,72 लाख का अवैध सिगरेट पकड़ाया,2 आरोपी को किया गिरफ्तार,तस्करी करने शातिरों ने अपनाया था नायाब तरीका

महासमुंद/पुलिस अधीक्षक महासमुन्द प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने जिले के समस्त थाना/ चौकी प्रभारियों को गांजा, शराब आदि मादक पदार्थों की तस्करी रोकने के लिए महासमुन्द जिले के बाॅर्डर पर सघन चेकिंग कार्यवाही हेतु निर्देशित किया था। इसके तहत् ओडिशा राज्य से अवैध गांजा, शराब, धूम्रपान सामग्री के अवैध परिवहन को रोकने सरहदी थाना प्रथारियों द्वारा मुखबिर लगाकर संदिग्ध वाहनों एवं व्यक्तिओं पर नजर रखी जा रही थी इसी दौरान सुबह पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि ओडिशा से अवैध धूम्रपान सामग्री का परिवहन होने वाला है। एक ट्रक में अवैध धूम्रपान सामग्री भर कर ओड़िशा से महासमुंद के रास्ते से रायपुर ले जाया जा रहा है।

इस सूचना पर थाना कोमाखान की टीम क्षेत्र के संभावित जगहों पर बैरिकेट लगाकर संंदिग्ध ट्रक पर निगाह रखी हुई थी। तभी ओड़िशा की ओर से आयचर ट्रक क्रमांक OD 02 AY 8394 आया, जिसे टेमरी फारेस्ट नाका के पास रोककर तलाशी ली गई।

ट्रक में सब्जी रखने के खाली कैरेट लोड थे, लेकिन उसके नीचे सफेद प्लास्टिक बोरियों में सिगरेट भरे थे।
ट्रक में दो व्यक्ति चालक व परिचालक सवार थे, वे इन सिगरेट के बारे में पूछने पर गोलमोल जवाब देने लगे तथा इतने बड़े पैमाने पर सिगरेट परिवहन के संबंध कोई वैध दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाए। इस कारण पुलिस ने धारा 102 के तहत 60 बोरियों में भरे 120 कार्टून सिगरेट जब्त किया, जिसकी कीमत 72 लाख बताई गई है। साथ ही ट्रक को भी जब्त किया गया है। मामले में ट्रक के चालक आलोक प्रधान पिता गतिकृष्ण प्रधान उम्र 28 वर्ष तथा परिचालक जयदेव शिवचंदन पिता सुखलदेव शिवचंदन उम्र 19 वर्ष दोनों ओडिशा निवासी को गिरफ्तार किया गया है।
यह सम्पूर्ण कार्यवाही एसपी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में एएसपी श्रीमती मेघा टेम्भुरकर साहू एवं एसडीओपी सुश्री लितेश सिंह के निर्देशन में थाना प्रभारी कोमाखान उमाकान्त तिवारी, एएसआई रनसाय मिरी, तथा आरक्षक संतोष सांवरा द्वारा की गई।