यशवंत सिन्हा ने भाजपा का दामन छोड़ टीएमसी में हुए शामिल,बोले- अब मोदी शाह को देश नहीं करेगा बर्दाश्त

कोलकाता/पश्चिम बंगाल के चुनाव के बीच भाजपा के पूर्व नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। उन्होंने टीएमसी का झंडा लहराते हुए ममता बनर्जी की पार्टी का हाथ थाम लिया। यशवंत काफी दिनों से बीजेपी से नाराज चल रहे थे और कई मौकों पर बीजेपी की आलोचना कर चुके हैं।

ममता बनर्जी का थामा हाथ

उन्होंने टीएमसी का झंडा लहराते हुए ममता बनर्जी की पार्टी का हाथ थाम लिया। उन्होंने टीएमसी में शामिल होने के पीछे नंदीग्राम में ममता बनर्जी पर हुए हमले को वजह बताते हुए कहा कि आज की सरकार दमन कर जीतने पर भरोसा करती है।

आज की सरकार कुचलने और जीतने में विश्वास करती है

टीएमसी में शामिल होने के बाद बीजेपी की आलोचना करते हुए यशवंत सिन्हा ने मीडिया से कहा, ‘प्रजातंत्र की ताकत प्रजातंत्र की संस्थाएं होती हैं। आज लगभग हर संस्था कमजोर हो गई है, उसमें देश की न्यायपालिका भी शामिल है। हमारे देश के लिए ये सबसे बड़ा खतरा पैदा हो गया है। अटल जी के समय में बीजेपी सर्वसम्मति पर विश्वास करती थी लेकिन आज की सरकार कुचलने और जीतने में विश्वास करती है। अकादी दल, बीजेडी, शिवसेना पहले ही बीजेपी का साथ छोड़ चुकी है। आज बीजेपी के साथ कौन खड़ा है?’

अब मोदी शाह को देश नहीं करेगा बर्दाश्त

सिन्हा ने कहा,‘इसमें कोई शक नहीं है कि तृणमूल कांग्रेस बहुत बड़े बहुमत के साथ सत्ता में वापस आएगी। बंगाल से पूरे देश में एक संदेश जाना चाहिए कि जो कुछ मोदी और शाह दिल्ली से चला रहे हैं, अब देश उसको बर्दाश्त नहीं करेगा। मैं बहुत अफसोस के साथ कह रहा हूं कि चुनाव आयोग अब स्वतंत्र संस्था नहीं रही है।